क्या सीखने की क्षमता को भविष्य मे कौशल माना जाएगा ?

शीघ्रता से सीखने की क्षमता कर्मचारियों और कंपनियों के लिए सफलता की नई कुंजी है ।

Read this article in: Deutsch, English, Português, Русский, हिन्दी

Estimated reading time:3minutes

अभी तक आपकी योग्यताओं और कौशल के आधार पर आपको नौकरी पर लिया जाता था । लेकिन अब कंपनियां सीखने की क्षमता पर अधिक से अधिक ध्यान केंद्रित कर रही हैं। कारण बहुत आसान है। कारोबारी माहौल लगातार बदल रहा है, जिससे लगातार नई चीजें सीखने की आवश्यकता होती है।

व्यापार विश्व ४.० में नए कौशल की आवश्यकता तेजी से बढ़ती है क्योंकि दूसरें कौशल की आवश्यकता घट जाती है। मैनपावर ग्रुप के एक अध्ययन के मुताबिक, नियोक्ताओं का ये मानना है कि, १९९५ के बाद पैदा होने वाले ६५% लोगों को उन नौकरीयों पर लिया जा सकता है जो अभी तक अस्तित्व में भी नहीं हैं, और ४५% लोगों की गतिविधियों को स्वचालित किया जा सकता है। इसका मतलब यह नहीं कि, कम नौकरियां होंगी, बल्कि अलग-अलग कौशल की आवश्यकता के मुताबिक नई नौकरियां होंगी।

आधुनिक जगत में भविष्य के कर्मचारी कों नए व्यावसायिक परिस्थितियों के अनुकूल होने के लिए जिज्ञासा और सीखने की क्षमता की आवश्यकता होती है। तथाकथित सीखने की क्षमता, जिसका मतलब है कि कार्यशील जीवन के दौरान नए कौशल सीखने और अनुकूलन करने की इच्छा और क्षमता दोनों कर्मचारियों और उद्यमियों के लिए सफलता की कुंजी बन जाएगी।

“सफल नियुक्ती एक उम्मीदवार के वर्तमान कौशल पर कम और नई चीजों को तेजी से सीखने की क्षमता पर अधिक निर्भर करती है ” एसा मैनपावर ग्रुप, जर्मनी के सीईओ, हेरवार्थ ब्रून का कहना हैं ।“हमारे  भविष्य के समय का एक केंद्रीय कार्य यह होगा कि, लगातार बदलते काम की आवश्यकताओं के अनुसार हमारे कर्मचारियों को अपने कौशल को अनुकूलित बनाने के लिए प्रोत्साहित करना। नियोक्ताओं के रूप में, हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि अपनी योग्यता विकसित करने के लिए तैयार हर व्यक्ति ऐसा करने में सक्षम हो ।”

आधुनिक समय के गतिशील विपणि में, उद्यमियों के लिए आकर्षक रहने के लिए, कर्मचारियों कों लगातार अपनी क्षमताओं और कौशल विकसित करना महत्वपूर्ण है।दूसरी ओर उद्यमियों के लिए, अपने कर्मचारियों को अपने कौशल को विकसित करने का विकल्प प्रदान करना महत्वपूर्ण है, ताकि वे आधुनिक प्रक्रियाओं और प्रौद्योगिकियों के साथ अद्यतित रह सकें।

 

सीखने की क्षमता को बढ़ावा दें

मैनपावर ग्रुप के कार्यकारी उपाध्यक्ष मारा श्वान ने  विश्व आर्थिक मंच २०१६ में वर्णित किया है कि, कैसे नियोक्ता अपने कर्मचारियों के ज्ञान प्राप्त करने की उत्सुकता का लाभ ले सकते हैं और उन्होने इसे सफलतापूर्वक सम्मिलित करने के लिए निम्नलिखित चार चरणों की सिफारिश की है:

  • व्यक्ति वृत्त से परे देखो :छात्रों को विश्वविद्यालय में पढ़ाया जाने वाला कौशल जरूरी नहीं है कि आज नौकरी के बाजार में जरूरी हैं। नियोक्ताओं कों उन उम्मीदवारों और कर्मचारियों की खोज करनी चाहिए जिन्हे ज्ञान प्राप्त करने का जोश और उत्साह हैं।
  • सावधानी से चुनें:सबसे बेहतर शिक्षा के विकल्प उन कर्मचारियों के लिए आरक्षित किए जाने चाहिए जो कि तेजी से सीखने की अपनी क्षमता साबित करते हैं और अत्यधिक प्रेरित हैं।
  • उसे कुछ अवधि दो:यदि आप सीखने की आदत को स्थापित करना चाहते हैं, तो आपको एक ऐसा स्थान बनाना होगा  जहां बुद्धिमत्ताको चुनौती दी जाती है - उदाहरणार्थ व्यवसाय के मामले को एक असामान्य दृष्टिकोण से  देखना 
  • शिक्षार्थियों को प्रेरित करें : आप उन कर्मचारियों का सन्मान कर सकते हैं, जो सीखने को बढ़ावा देते हैं। उदाहरणार्थ,इस तरह के कार्य जैसे, बाहरी वक्ताओं को आमंत्रित करना या चर्चा समूहों का आयोजन करना ।सबसे अच्छे कर्मचारी अपनी क्षमता का विस्तार करना चाहते हैं, श्वान कहते हैं: "उन्हें खुद को चुनौती देने का मौका दें"।

सीखने की क्षमता पेशेवर सफलता का एक संकेतक है |इस क्षमता को देखना कंपनियों को अपने कर्मचारियों और उनके विकास में  सफलतापूर्वक निवेश करने में मदत करता है ।आपको कर्मचारी प्रेरणा के संबंध में प्रदर्शनों को बढ़ावा देने और बेहतर निर्णय लेने के बारे में सलाह प्राप्त होती है ।

सीखने की क्षमता के बारे में अधिक तथा सीखने  की क्षमता के अपने खुद के स्तर का मूल्यांकन करने के लिए एक परीक्षण यहां पाया जा सकता है: LINK

यदि आप योगदान देना चाहते हैं, तो टिप्पणी करें और लेख साझा करें।क्या आप अपने लेख लिखने में रुचि रखते हैं?बस मुझे gastbeitrag@alugha.com. पर एक ईमेल लिखें

इसे पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद!

#alugha

#doitmultilingual

#VideoOttoGroup

More articles by this producer

२०१९ में YouTube के ९ सर्वश्रेष्ठ विकल्प!

ऑनलाइन वीडियो देखना दुनिया भर में बहुत लोकप्रिय हो गया है और अगर आप वीडियो देखना चाहते हैं तो YouTube पर जाना एक आदत में बदल गया है। लेकिन आपके लिए हमारे पास YouTube के कुछ विकल्प हैं!