अधिक महत्वपूर्ण क्या है - व्यावसायिक अनुभव या सीखने की क्षमता ?

अनुभव पर्याप्त नहीं है! आपको कुछ और प्रस्तुत करना होगा। भावनात्मक बुद्धिमत्ता, एक टीम में काम करने की क्षमता और लगातार सुधार में दिलचस्पी पेशेवर सफलता के लिए आवश्यक है।

Read this article in: Deutsch, English, Español, Português, Русский, हिन्दी

Estimated reading time:2minutes

कई ऐसे पेशेवर कर्मचारी हैं जो बर्खास्तगी का सामना कर रहे हैं। यह उदाहरण हमें बताता है कि सिर्फ अनुभव पर्याप्त नहीं है । युवाओं को उनकी उच्च व्यावसायिक क्षमता, कौशल और मनोभाव के कारण नौकरी विपणि में पसंद किया जा रहा है।

व्यावसायिक अनुभव नौकरी विपणि में एक बड़ा लाभ है, लेकिन यह निर्णयात्मक नहीं है। आपके पास कुछ अधिक कौशल होने ज़रूरी है। वर्तमान में, कंपनियां भावनात्मक बुद्धिमत्ता, टीम में काम करने की क्षमता या निरंतर सुधार में रुचि इनको अधिक महत्त्व देते हैं। ये तीन चीजें, जो नई पीढ़ी की विशेषतएं हैं, पेशेवर सफलता के लिए आवश्यक हैं।

कई पेशेवर जैसे ही एक निश्चित पद तक पहुंच जाते हैं, वे सुविधा और उत्साहभंग महसूस करने लगते हैं। जैसे कि आप जानते हैं, अगर आप अपना करियर बनाना चाहते हैं तो ये विशेषताएं और गलतफहमीयां बहुत ही प्रतिरोधी है। "कोई भी सबकुछ नहीं जानता है और जो आप आज जानते हैं वो कल अप्रचलित हो सकता है" ऐसा गॅबोर RH के निर्देशक और कॅथो के समीक्षक, रिकार्डो कारपॅट बतलाते हैं।  

नौकरी बाजार में प्रतिस्पर्धात्मक बने रहने के लिए और रिक्ति के लिए चुने जाने के लिए, अनुभवी कर्मचारीयों ने हमेशा अपने पेशे के भीतर अद्यतन रहना चाहिए, उदाहरणार्थ पाठ्यक्रम पढ़ना तथा लेख पढ़ना। अपने आप को प्रेरित रखना और नई चुनौतियों का लगातार स्वीकार करना महत्वपूर्ण पहलू हैं।

एक अल्प अनुभवी पेशेवर तब सफलता प्राप्त कर सकता है, जब वह अपने व्यवहार और शैक्षिक योग्यता पर ध्यान केंद्रित करता है और अपनी प्रेरणा और तेजी से सीखने की क्षमता के महत्त्व पर ज़ोर देता है। 

नौकरी बाजार के लगातार बदलाते समय में, व्यवहार अधिक से अधिक महत्वपूर्ण हो गया है। कारपॅट के अनुसार, कोचिंग, व्याख्यान और चिकित्सा के सहायता से अपने व्यवहार पर ध्यान केंद्रित करना महत्वपूर्ण है।

इन दिनों, एक पेशेवर को उन संकेतों की प्रतीक्षा करने की आवश्यकता नहीं है जो आगेके प्रशिक्षण आवश्यक बनाते है क्योंकि वे लगातार उसी पेशेमें रहे हैं। "पेशेवर को अपने अतीत से संतुष्ट होना चाहिए और वर्तमान से असंतुष्ट होना चाहिए और लगातार बेहतर भविष्य बनाने की चाहत रखनी चाहीए। यदि आपके पास यह विचारधारा है तो आप हमेशा के लिए प्रतिस्पर्धात्मक रहेंगे ", ऐसा अंत में कारपॅट ने कहा।

मुझे आशा है कि आपको यह लेख अच्छा लगा ! नीचे निसंकोच टिप्पणी करें। यदि आप अपना खुद का लेख प्रकाशित करना चाहते हैं, तो कृपया हमें यहां लिखें: gastbeitrag@alugha.com.

विल्गेन और आपकी अलुघा टीम!

#alugha

#doitmultiligual

#RicardoKarpat

 

More articles by this producer

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website. Learn more in our privacy policy.