अलुघा की कहानी

कैसे एक पिता और पुत्र की संकल्पना भविष्य की दृष्टि बन गई

अलुघा MHC की तरफ़ जा रहा है! दिसंबर २०१६ में, हमें मानहाइम हॉकी क्लब पत्रिका के चार पृष्ठों को लेखो के साथ भरने का मौका मिला! हम आपको एक छोटा सा अंश दिखाने तथा अलुघा की स्थापना कैसे की गयी इस रोमांचक सवाल का जवाब देना चाहेंगे ।

मई २०१२ : यदि यह अस्तित्व में नहीं है ... हम इसे स्वयं करेंगे! लगभग इसी तरह आप अलुघा के "जन्म" का वर्णन कर सकते हैं। यह आवश्यकता तुच्छ के समान थी क्योंकि यह उलझाव भरी थी। कई भाषाओं में एक वीडियो, बस एक डीवीडी की तरह, लेकिन ऑनलाइन। हालांकि, आपके वीडियो को बहुभाषी रूप में ऑनलाइन रखने का कोई तरीका नहीं था। न तो YouTube और न ही अन्य वीडियो प्लेटफॉर्म ने यह पेशकश की। इस विचार को ध्यान में रखते हुए, अंततः बहुत जटिल निर्माण का जन्म हुआ, और अलुघा वीडियो प्लेटफॉर्म की नींव रखी गई ।

 

 

एक परिवार

ब्रेंङ कोझॆ, उस समय मानहाइम में एक छोटी सॉफ्टवेयर कंपनी के सह-संस्थापक, जिन्हे "अविश्रांत" कहा जा सकता है। एक बहुत मेहनती, प्रेरित और निर्धारित व्यक्ति। कार्य के बाद, वह अपने शौक संधारण करते हुए, YouTube के लिए व्याख्याता वीडियो तैयार करते हैं। वह जटिल गणितीय संबंध, संगणक में दीवार कैसे बनाए , अपने संगणक का कैसे संधारण करें, या प्रतिदिन की ज़िंदगी की चीजों को कैसे आसान करें यह जर्मन में समझाते है। यह  वीडियो अलोकप्रिय नहीं हैं, उनमें से कुछ के पास १००,००० से अधिक दर्शक हैं, लेकिन यह ब्रेंङ कोझॆ के लिए पर्याप्त नहीं है ।

"मेरा हमेशा ये विश्वास रहा है कि, ज्ञान को साझा किया जाना चाहिए।"

जब ग्राहकों ने अंग्रेजी में वीडियो का अनुरोध किया, तो उन्हें पहले कोई समस्या नहीं दिखाई दी। लेकिन उपशीर्षक जोड़ना और अंग्रेजी चैनल बनाना ब्रेंङ को स्वीकार्य उपाय नही लग रहा था । इसलिए उन्होंने YouTube पर "बस" एक अन्य ऑडियो ट्रैक जोड़ने की कोशिश की ।लेकिन यह इतना आसान नहीं था, क्योंकि YouTube पर एक अतिरिक्त ऑडियो ट्रैक अपलोड करना संभव नहीं था। अपनी पत्नी और उनके कुत्ते के साथ घुमते हुए, कोझॆ को एक ऐसा विचार आया जो इस समस्या को हल कर सकता है। वह सोचतें थे, टिप्पणियाँ बनातें थे, और बदलतें थे। और फिर वह अपने विचार प्रस्तुत करतें थे। ग्रेगोर ग्राएनेर्ट भी एक सॉफ्टवेयर कंपनी में उस प्रस्तुति के लिये साथ आए थे । प्रोटोटाइप के विकास के लिए १००,००० यूरो का प्रस्ताव था। इस प्रस्ताव के साथ, यह परियोजना विफल रहेगी ऐसा लग रहा था।

"मैं उस पल को कभी नहीं भूल सकता जब निकलस बैठक कक्ष में आये थे।"

कोझॆ पूरी तरह से निराश हो गये थे और तब रात के खाने के दौरान एक बहुभाषी वीडियो प्लेयर के असफल विचार के बारे में उन्होने अपने परिवार को बताया। उनके १५ वर्षीय पुत्र निकलस , एक कंप्यूटर प्रतिभाशाली भी मेज पर बैठे थे।वह भी, अपने पिता के विचार से तुरंत रोमांचित हो गये । वह भी इसे विफल होता स्वीकार नहीं करना चाहते थे । इसीलिए, वह अपने कंप्यूटर के सामने बैठे और केवल एक सप्ताह के अंदर पहला प्रोटोटाइप बनाया, वो भी सिर्फ १५ साल की उम्र में। यह अलूगा के लिए एक मोड़ था, और यह इस समय सफलताजनक था।

"मुझे कभी हारना मंजूर नही था!"

आज, अलुघा एक सॉफ्टवेयर कंपनी है जिसमें २५ कर्मचारी हैं। कई रचनात्मक दिमाग दो से अधिक वर्षों के लिए लगातार कंपनी को आगे बढ़ाने में व्यस्त रहे हैं। उस समय के भीतर, हमने अलुघा में आजादी के प्रति कई बहादुर निर्णय लिए हैं। अलुघा अपने स्वयं के प्लेयर और ऑडियो संपादक का उपयोग करता है,जो कंपनी को अतिरिक्त महंगी कार्यक्रमों से स्वावलंबी बनाता है। जून २०१६ में, हमने वर्डप्रेस से छुटकारा पाया । तब से, लेख एक ब्लॉगिंग सिस्टम के साथ प्रकाशित किए गए हैं जो पूरी तरह से आन्तरिक लिखी गयी हैं । हालांकि, अभी भी बहुत कुछ आने वाला है, और यह हमारे लिए स्पष्ट है, अलुघा परिवार!

मित्रता

आज हम छोटे या बड़े हो सकते हैं, लेकिन हम निश्चित रूप से यहां नहीं होंगे। हमारे सीईओ ब्रेंङ कोझॆ और ग्रेगोर ग्राएनेर्ट लंबे समय सें करीबी दोस्त रहें हैं। जबसे ग्रेगोर को बहुभाषी वीडियो प्लेयर के विचार के बारे में पता चला, वह रोमांचित हो  गये है। इतने रोमांचित है कि , ग्राएनेर्ट परिवार अप्रैल २०१४ में कंपनी में शामिल हो गया। ग्राएनेर्ट परिवार भी लंबे समय से मानहाइम हॉकी क्लब का समर्थन करता आ रहा है। और वह हमें यहाँ तक ले आया है।

अब आप अलुघा की कहानी जानते हैं। हमें गर्व है कि हम इसे मानहाइम हॉकी क्लब पत्रिका में बता सकते हैं, और हम इसे आप तक ही नहीं रखना चाहते।जो कोई भी पूरा लेख पढ़ना चाहता है, यहां पीडीएफ फाइल का लिंक है:

लीलीफी और बाकी अलुघा टीम आपको एक अच्छे सप्ताह की कामना करती है!  

#alugha

#doitmultilingual 

This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website. Learn more in our privacy policy.